Love is a language that does not need words. If you love someone then your actions speak louder than your words. Smallest of things that we do for our partners show how much we love them. Here are a few things partners do that reflect how much they love their betterRead More →

Advertisements

Download Now!!! Click on the link above Well, Phew! It has been a hectic month and a lot of things happened. With So many entries, I am planning to create member profiles so that you can submit your articles any time. You can click on https://misszesty.com/be-a-writer/ to submit your entriesRead More →

आँखें दिखा कर पढ़ने बैठा दिया, ज़रा ग़लती हुई तो ज़ोर से डाँट दिया. माँ ने आकर चुपके से खाना खिलाया, तो सोचा पापा से छुप कर आई होंगी. फिर पता चला पापा ने ही भेजा था, मुझे मनाने के लिए. हमेशा सोचता रहा माँ पसंद की सब सब्ज़ियाँ बनIतींRead More →

भारतीय समाज में, आदर्श यह माना जाता है कि बूढ़े माता-पिता की देखभाल के लिए पुरुष जिम्मेदार हैं। लेकिन जो बात हमें चकित करती है वह यह है कि बूढ़े माता-पिता की जिम्मेदारी लिंग के आधार पर विभाजित होती है। विवाहित महिला अपने माता-पिता की देखभाल क्यों नहीं कर सकतीRead More →

Miss Zesty is a digital women’s magazine that highlights all the aspects of a woman’s life – relationships, career, food, parenting, fashion, style, health and beauty and a lot more. Our team works diligently to bring the best articles for our readers.    Read More →

भाई के पीछे साइकल पर बैठ कर, मैने तो सारी दुनिया घूम ली थी छोटी बहन को लालच देकर ढेरों काम भी करवा लिए. गर्मियाँ आई तो आम की लड़ाई, सर्दियों में खेले खेल, और फिर याद आई दादी की रज़ाई. बाबा मेले में ले गये, कंधो पर बैठा करRead More →

मतलब के रिश्ते, मतलब की यारी, मतलब का प्यार, मतलब का लगाव. मतलब से चलती है दुनिया ये सारी, नही समझ पाए तो कीमत चुकाओगे भारी. आज तुम अच्छे हो, सबसे हो बढ़िया, क्या फ़ायदा है उनका, जोड़ लो कड़ियाँ. हाँ में हाँ मिलाते जाओ, सब बात पर हो जाओRead More →

अब बड़ी हो गयी हूँ, किसी की बीवी, किसी की माँ बन गयी हूँ. अब बड़ी हो गयी हूँ, अब अपनी ही ग़लती पर पापा से नाराज़ नही हो सकती, अब तो दूसरों की ग़लती पर भी, कभी कभी मैं ही झुक जाती हूँ. अब बड़ी हो गयी हूँ, माँRead More →

अक्सर जैसे जैसे शादी को कुछ साल बीतने लगते हैं, हम देखते हैं की हमें अपने साथी से कुछ शिकायतें होने लगती है: १. ये तो कभी ऑफीस से एक बार फोन भी नही करते २. आते ही फोन या लॅपटॉप पर लग जाते हैं ३. आई लोवे यू बोलेRead More →

यह बात झूठ नही है, की कभी कभी जब कोई लड़ना ही छोड़ दे, इसका मतलब शायद उसने उम्मीद ही छोड़ दी. अक्सर ऐसा होता है, की हम किसी रिश्ते में तब तक, सामने वाले को समझाने की कोशिश करते है, या तब तक ही कोई शिकायत करते हैं जबRead More →