हम अक्सर ऐसे आर्टिकल्स पढ़ते हैं जिसमें इस बात पर ज़ोर दिया जाता है की एक माँ को जज ना किया जाए. घर हमेशा सज़ा सँवरा नही रह सकता, बच्चे हमेशा सलीके में नही हो सकते, बच्चे होने के बाद ज़रूरी नही की हर औरत करियर और घर दोनो संभालRead More →

Advertisements

अब बड़ी हो गयी हूँ, किसी की बीवी, किसी की माँ बन गयी हूँ. अब बड़ी हो गयी हूँ, अब अपनी ही ग़लती पर पापा से नाराज़ नही हो सकती, अब तो दूसरों की ग़लती पर भी, कभी कभी मैं ही झुक जाती हूँ. अब बड़ी हो गयी हूँ, माँRead More →

कुछ दिन पहले एक अजीब सा वाकिया हुआ. एक माँ ने फ़ेसबुक पर एक ग्रूप पर ग़लती से यह पूछ लिया की मेरा ढाई साल का बेटा स्कूल का होमवर्क नही करता मैं क्या करूँ? बात इतनी सी थी के वो ये लिखना भूल गयी की जब उसने होमवर्क लिखाRead More →

नन्ही सी गुड़िया मेरे घर आई थी, कच्ची उंगलियाँ, रूई सा स्पर्श, हल्की इतनी जैसे कोमल कोई फूल, बचा बचा कर पकड़ती थी, के कहीं हो जाए ना भूल, दूध पिलाती, तो सीने से चिपकी रहती, ना जाने कब दूध पीते पीते सो जाती. आँख खुलती तो मंध मंध मुस्कुराती,Read More →

She held his finger and taught him to walk, Taught him songs when he learned to talk. She touched his face and saw that strength, His bright future she could see at length. His motherland, her child wanted to save, She knew her boy is the bravest of brave. ItRead More →

Selfless mother, forgiving mother, loving mother . . . We might have some qualities to be that but then some of us have certain qualities that make us ‘that’ Mom. Are you ‘That Mom’ . .  who hides chocolates from her child to eat later peacefully.   who does notRead More →